Oracle Database क्या है? What is Oracle Database in Hindi?

Database काफी सारा डाटा का एक समूह होता है Database में हम काफी सारा डाटा एकसाथ सिस्टेमेटिक तरीके से रखते है|

Database Tables की थ्योरी पर काम करता है इसमें millions of millions table हो सकते है जिसमे डाटा store हुआ रहता है सिस्टेमेटिक तरीके से |

सभी बड़ी बड़ी company का अपना database होता है जिसमे वह अपना सारा डाटा store करके रखती है|

Oracle Database Server हमें डाटा को create, store, manage और retrieve करने की क्षमता देता है| Database Administrator (DBA) को database के architecture की पूरी जानकारी होनी चाहिए|

Oracle Architecture

Oracle server, फिजिकल फाइल्स (physical files) और मेमोरी कॉम्पोनेन्ट (memory component) को कंसिस्ट (consist) करता है| Oracle Database तीन component से मिलकर बनता है :-

1. Oracle Server – Oracle database management system जोकि डाटा को store, manage और manipulate करता है सभी फाइल्स, structures और प्रोसस्सेस को कंसिस्ट करता है जिससे Oracle Database बनता है|

2. Oracle Instance – Oracle Instance में database के memory component और सभी background process संग्रहित रहते है|

3. Oracle Database – यहाँ पर सारा डाटा store किया जाता है|

Oracle Instance

Oracle Instance, memory component और background processes से मिलकर बनता है या हम यह कह सकते है कि memory और process oracle instance में कंसिस्ट होते है|

Oracle Instance हर बार create होता है जब database को start किया जाता है यह RAM की तरह ही है परंतु इसका काम उससे कहीं ज्यादा है|

Oracle database के memory component को हम System Global Area (SGA) कहते है|

Oracle Database के instance और memory component को एक file configured करती है जिसे PFILE (parameter file) कहते है | Oracle में दो प्रकार की initialization files होती है :-

  • Server Parameter File (SPFILE)
  • Parameter File (PFILE)

Memory Components of SGA

Oracle Instance SGA (System Global Area) तथा background processes से मिलकर बनता है| SGA निचे दी गयी सभी memory से मिलकर बनता है :-

Redo Log Buffer
Database Buffer Cache
Shared Pool
Java Pool
Large Pool
Stream Pool

Redo Log Buffer

Redo log buffer एक circular buffer होता है जो भी changes database में होती है वह सारा रिकॉर्ड redo log buffer में store होता है|

Redo log buffer का साइज़ LOG_BUFFER initialization parameter से determine होता है|

Database Buffer Cache

Database का actual काम database buffer cache memory में होता है जिस भी block में मॉडिफिकेशन करनी होती है वह block database buffer cache में load होता है और modify होने के बाद बापिस डिस्क में write हो जाता है|

Database Buffer Cache का साइज़ DB_BLOCK_SIZE initialization parameter से determine होता है|

Shared Pool

Shared Pool को इसलिए shared pool कहा जाता है क्यूकी shared pool memory को database के सभी users द्वारा share किया जाता है|

Shared Pool का साइज़ SHARED_POOL_SIZE initialization parameter से determine होता है|

Data Dictionary Cache

Data dictionary cache को row cache भी कहते है इस cache memory में वह block store होते है जिनमे data dictionary की इनफार्मेशन होती है इस cache को Least Recently Used (LRU) algorithm manage करती है जोकि first in first out basis पर काम करती है|

Large Pool

Large pool एक ऑप्शनल pool या memory होती है जिसका साइज़ LARGE_POOL_SIZE initialization parameter से determine किया जाता है|

Java Pool

Java pool memory area session specific java code या java data द्वारा use होती है

Java Pool का साइज़ JAVA_POOL_SIZE initialization parameter से determine होता है|

Stream Pool

Stream pool, oracle के stream प्रोडक्ट द्वारा use की जाती है|

Background process of Oracle

Orcale के पांच सबसे important processes है :-

1. Database Writer (DBWR)

2.Log Writer (LGWR)

3.Checkpoint Process (CKPT)

4.System Monitor (SMON)

5.Process Monitor (PMON)

Program Global Area (PGA)

PGA एक memory area है जो server के प्रोसेस के साथ काम करता है| PGA single server प्रोसेस या background process का डाटा और कण्ट्रोल इनफार्मेशन होती है|

Program global area तब create होता है जब एक user प्रोसेस create होता है|

PFA में निचे दिए गये memory area include होते है :-

1. Private SQL Area

2.Session Memory

3.SQL Work Area

Physical Files of Database

Oracle में तीन प्रकार की physical फाइल्स होती है :-

1. Data File – Datafile में database का डाटा store होता है, Datafile में user द्वारा create किया गया डाटा तथा data dictionary store होती है|

2.Control File – Control file database की important file होती है जिसमे database की सारी important इनफार्मेशन store होती है|

3.Redo Log Files – Redo log files में उन सभी files या डाटा का रिकॉर्ड store होता है जिनमे changes की गयी हो|

Vikas Sharma

Vikas Sharma is Founder of Tech Master Hindi. Vikas Sharma holds BCA, MCA Degree and CCNA, MCITP, Oracle 10g, C, C++, ASP.Net Certification.Vikas Sharma is a professional UX/UI Web Developer and Designer. Vikas Sharma is IT Teacher in Govt Sen Sec School Mohal Distt Kullu (H.P.)

Related Posts

error: Content is protected !!